Ration Card ke Prakar

राशन कार्ड कितने प्रकार के होते हैं?

देश में एक राशन कार्ड हुआ करता था। मगर समय के साथ, अब हर राज्य में अलग-अलग राशन कार्ड होने बनने लगे, फिर राशन कार्ड के अलग-अलग रंग में बनने लगे। फिर गरीब – अमीर के हिसाब से राशन कार्ड बनने लगे। अब तीन रंगों की राशन कार्ड बनने लगे है। अमीर परिवार और मध्यमवर्गीय परिवार और गरीबों परिवारों के लिए अलग तरह के राशन कार्ड बनते हैं।

वैसे भारत के सभी राज्यों में तीन प्रकार के राशन कार्ड बनते हैं जिनकी अलग-अलग रंग है। मगर यह सभी राशन कार्ड सभी राज्यों में चलेंगे, क्योंकि भारत में एक देश एक राशन कार्ड योजना लागू हो गई है। इसके तहत यह राशन कार्ड आप देश के किसी भी शहर में जा कर राशन या राशन कार्ड की सुविधाएं ले सकते हैं।

राशन कार्ड कितने प्रकार

वर्तमान रूप में तीन प्रकार के कार्ड वितरित होते हैं:

  • अंत्योदय राशन कार्ड, यह सबसे गरीब लोगों को दिया जाता है।
  • गरीबी रेखा से नीचे (बीपीएल) कार्ड।
  • गरीबी रेखा से ऊपर (एपीएल) कार्ड।

देश में अमीरों के राशन कार्ड का रंग अलग है और मध्यम वर्ग परिवारों के लिए राशन कार्ड का रंग अलग है और गरीबों के लिए राशन कार्ड का रंग भी अलग है। राशन कार्ड के रंग देखकर आप किसी परिवार की आर्थिक स्थिति का अंदाजा लगा सकते हैं।

वैसे एक देश में सभी राशन कार्ड का एक भी ही रंग होना चाहिए, क्योंकि अलग – अलग रंग से अलग – अलग पहचान तो बनेगी। मगर एक भेदभाव बन जाता है कि यह गरीब है, वह अमीर है। यह मध्यम वर्गीय परिवार है। इसलिए एक देश एक राशन कार्ड के साथ एक देश एक राशन कार्ड का रंग भी होना चाहिए।

दोस्तों अगर आप मेरी बात से सहमत हैं तो आप नीचे दिए कमेंट बॉक्स में आप अपने सुझाव जरूर लिखें। इस पोस्ट को अपने दोस्तों को भी पढ़ने के लिए भेज दें। राशन कार्ड के कितने प्रकार के बारे में यह ब्लॉग पोस्ट लिखी गई है। आपको बहुत अच्छी लगी होगी और आपने पढ़ी, इसलिए आपको दिल से धन्यवाद।

गरीब लोगों को लोन कैसे मिलेगा

भारत में लोन के प्रकार

सरल लोन योजना

ग्रामीण होम लोन योजना

अनुसूचित जाति ऋण योजना

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *