Nivesh ke Prakar | निवेश कितने प्रकार के होते हैं?

निवेश कितने प्रकार के होते है? क्या हमें निवेश करने से पहले निवेश के बारे में समझना जरुरी है? निवेश करने वालों को निवेश के प्रकार की जानकारी होनी चाहिए। निवेश के प्रकार की जानकारी से आपको पता चल जायेगा कि कोनसा निवेश करना चाहिए और कोनसा नहीं।

निवेश के प्रकार

निवेश अवधि के आधार पर तीन प्रकार के और जोखिम के आधार पर निवेश दो प्रकार के होते है।

अवधि के आधार पर निवेश के प्रकार

  • अल्पकालीन निवेश
  • मध्यमकालीन निवेश
  • दीर्घकालीन निवेश

जोखिम के आधार पर निवेश के प्रकार

  • सुरखित निवेश
  • असुरखित निवेश

अल्पकालीन निवेश कहाँ और कितने समय तक कर सकते है?

कम समय के लिए निवेश

  • कम से कम दिनों तक FD
  • सोना और चांदी
  • शेयर मार्किट
  • सीजनल निवेश

मध्यमकालीन निवेश कहाँ और कितने समय तक कर सकते है?

एक से पाँच वर्षों के लिए निवेश

  • स्टॉक
  • बांड
  • म्यूच्यूअल फण्ड
  • प्रॉपर्टी निवेश
  • सोने में निवेश
  • शेयर मार्केट
  • फिक्स्ड डिपाजिट

दीर्घकालीन निवेश कहाँ और कितने समय तक कर सकते है?

पाँच वर्षों से ज्यादा समय के लिए किया गया निवेश।

  • स्टॉक
  • बांड
  • म्यूच्यूअल फण्ड
  • प्रॉपर्टी निवेश
  • सोने में निवेश
  • शेयर मार्केट
  • फिक्स्ड डिपाजिट
  • PPF में निवेश

जोखिम के आधार पर निवेश के प्रकार

  • सुरखित निवेश
  • असुरखित निवेश

सुरखित निवेश – किये गए निवेश पर पूंजी के साथ – साथ लाभ (return) मिलने का पूरा भरोसा।

  • रियल एस्टेट में निवेश
  • सोने में निवेश
  • फिक्स्ड डिपाजिट
  • PPF में निवेश
  • राष्ट्रीय बचत पत्र

असुरखित निवेश – किये गए निवेश पर लाभ या ROI की कोई गारंटी नहीं होती। अपने रिस्क पर निवेश करना।

  • स्टॉक
  • बांड
  • म्यूच्यूअल फण्ड
  • शेयर मार्केट
Nivesh Ke Prakar
Nivesh Ke Prakar

Nivesh ke Prakar

निवेश बड़े काम की स्कीम है। इससे हम अपने काम को करते हुए कमाई के अलावा बचत की हुई धन को कहीं अच्छी जगह निवेश करके अतिरिक्त धन कमा सकते है। ऊपर दिए गए सभी निवेश से सम्बंधित क्षेत्र है। इनमे से कोई एक या दो को चुनकर आप अपना निवेश शुरू कर सकते है।

छोटे से छोटा निवेश 500 रूपये शुरू कर सकते है। आप हर महीने 500 का निवेश म्यूच्यूअल फण्ड या फिक्स्ड डिपाजिट में कर सकते है। म्यूच्यूअल फण्ड में निवेश के लिए demat account अपने किसी बैंक में खुलवा सकते है या किसी विश्वशनीय मोबाइल एप्प से भी निवेश शुरू कर सकते है।

आज – कल निवेश के लिए खता खुलवाना बहुत ही आसान हो गया है। आप घर बैठे किसी प्रकार का खाता के लिए आवेदन कर सकते है। कम से कम कागज की कार्यवाही से खाता खुल सकता है। इसलिए अब मोबाइल फ़ोन से भी छोटा निवेश शुरू कर सकते है।

आज – कल कई भारतीय कम्पनीज ने नए – नए आईपीओ बाजार में लेकर आ रही है और निवेशक उनके द्वारा जारी किये गए शेयर में तुरंत निवेश कर भी रहे है। जो निवेशक निवेश के बारे में जानते है वो निवेश करने में पीछे नहीं हटते, परन्तु नए निवेशकों को बहुत ही ध्यान से निवेश करना पड़ता है, क्यों कि उनके पास अनुभव की कमी है।

निवेश करने के लिए कोनसा निवेश चुने और क्यों चुने? ये प्रश्न निवेश करने से पहले खुद से जरूर पूछें। निवेश करने के लिए हमें निवेश के सभी प्रकारों का ज्ञान होना बहुत ही जरुरी है और साथ ही साथ निवेश करने का अनुभव भी।

आप जिस क्षेत्र में निवेश करने जा रहे है उस क्षेत्र के बारे में और उन कंपनी के बारे में जान ले की वह मुनाफे में है या नहीं। जो क्षेत्र आप चुन रहे है उस क्षेत्र में किस तरह के भविष्य है और भविष्य में होने वाले लाभ और उतार – चढाव के बारे में अच्छी तरह जान लेना चाहिए।

कभी – कभी निवेश करने पर आने वाली अड़चनों के बारे में भी पता कर लेना चाहिए, क्यों कि सबकुछ लाभ पर निर्भर नहीं रहना चाहिए। निवेश बाजार आधारित होता है इसलिए बाजार का क्या भविष्य है और लोगों द्वारा उस क्षेत्र में कितनी रूचि है। बाजार में मुनाफा लोगों द्वारा खरीद पर भी निर्भर होता है। अगर आप जिस कंपनी में निवेश करने जा रहे है और उसका प्रोडक्ट को खरीदने में लोगों की रूचि या जरुरत ही नहीं है तो उस कंपनी को मुनाफा होना बहुत ही मुश्किल होगा इसलिए आपके द्वारा किये गए निवेश पर भी प्रभाव पड़ेगा।

निवेश उस कंपनी में करना चाहिए जैसी मांग और जरुरत बाजार में निरंतर बानी रहे। कंपनी की सेवा लेने वाला और लोगों के जरुरत निरंतर बानी रहे तो आपके निवेश पर मुनाफा अच्छा होने के आसार बन जाते है।

भारत में फूड बेचने वाली कंपनी में किये गए निवेश से निवेशकों की बल्ले – बल्ले हो रही है, जैसे जोमैटो, बर्गर किंग और भी कई कंपनी है जिनके शेयर खरीदने वालों को बहुत ही अच्छा लाभ मिलने के आसार बने हुए है।

शेयर बाजार में पैसे लगाने से पहले आपको शेयर बाजार को अच्छी तरह से समझ लेना चाहिए। पैसे लगाने के बाद पछताने से अच्छा है पहले शेयर बाजार और निवेश की किताबों और संस्थानों से ज्ञान प्राप्त करना आपके लिए बेहतर साबित हो सकता है।

निष्कर्ष

दोस्तों मैं उम्मीद करता हु की आपको निवेश के सभी प्रकार के बारे में जानकारी मिल गयी होगी और कोई जानकारी चाहिए तो आप मुझे कमेंट बॉक्स में बता सकते है। पिछले लेख में निवेश क्या है? के बारे में पढ़ा था। मेरे निवेश के प्रकार लेख तो पढ़ने और अपने दोस्तों के साथ लिंक शेयर करने के लिए दिल से धन्यवाद।

Leave a Comment