भारत में लोन के प्रकार

Loan kitne prakar ke hote hain भारत में लोन कितने प्रकार के होते है? प्यारे दोस्तों लोन होम लोन, पर्सनल लोन, बीमा पॉलिसी ऋण, एजुकेशन लोन, बिज़नेस लोन, ऑटो लोन, शादी लोन, प्रॉपर्टी लोन, एग्रीकल्चर लोन इत्यादि। दोस्तों लोन के कई प्रकार होते है।

लोन समय के अनुसार दो प्रकार का होता है एक कम समय के लिए लिया गया लोन शार्ट टर्म लोन कहलाता है और दूसरा लम्बे समय के लिए लिया गया लोन लॉन्ग टर्म लोन कहलाता है।

Vibhin Prakar ke Loan

विभिन्न प्रकार के लोन

  1. होम लोन
  2. पर्सनल लोन
  3. एजुकेशन लोन
  4. बिज़नेस लोन
  5. ऑटो लोन
  6. शादी लोन
  7. प्रॉपर्टी लोन
  8. एग्रीकल्चर लोन
  9. केसीसी लोन
  10. गोल्ड लोन
  11. बीमा पॉलिसी ऋण

समय के आधार पर लोन के प्रकार

दोस्तों ऋण क्या होता है ? आप यहां पर जानकारी प्राप्त कर सकते है। वैसे ऋण के बारे में आपको पता होगा ही। जब हम किसी से रुपया उधार लेते है तो उसे ऋण कहते है। इस ऋण को चुकाने के लिए हमें ब्याज भी देना होता है।

दोस्तों अगर आपको लोन के प्रकार अंग्रेजी में पढ़ने का शौक है तो आप यह से पढ़ सकते है।

You can read in English language about Different Types of Loans in India here.

दोस्तों लोन के प्रकार के बारे में जानना बहुत ही जरुरी होता है क्यों कि जब आप किसी बैंक या वित्तीय संस्था से लोन लेने के लिए जाते है तब आपको ये बताना जरुरी होता है की आपको कोनसा लोन लेना है। क्यों कि लोन के प्रकार से आधार पर ही लोन का ब्याज निश्चित होता है। और एक बात आपको बताना चाहता हु कि कार्य के आधार पर लोन दिया जाता है। आप किस कार्य या उद्देस्य के लिए लोन ले रहे हो। ये सब बातें उनको बताना पड़ता है जिनसे आप लोन लेने जा रहे है।

भारत में लोन कितने प्रकार के होते हैं?

आईये भारत में लोन के प्रकार के बारे में जानकारी प्राप्त करते है। वैसे भारत में लोन के प्रकारों की कमी नहीं है परन्तु मुख्या रूप से भारत में लोन इस प्रकार है –

Bharat mein loan ke prakar

ऋण नामऋण के उपयोग
होम लोनघर खरीदने के लिए
प्रॉपर्टी लोनजमीन या प्लाट खरीदने के लिए
बीमा पॉलिसी ऋणकिसी भी बिमा पॉलिसी पर लिया गया ऋण
कृषि लोनखेती करने के लिए
एग्रीकल्चर लोनकृषि भूमि पर लिया जाता है
बिज़नेस लोनव्यवसाय को लगाने के लिए
कैश क्रेडिट लोनव्यवसाय को बढ़ाने के लिए
पर्सनल लोनछोटी – छोटी जरूरतों को पूरी करने के लिए
ऑटो लोनगाड़ी खरीदने के लिए
गोल्ड लोनसोने के बदले लोन लेकर अपनी जरूरतों पूर्ति करने के लिए
शादी लोनशादी के खर्चे के लिए
शिक्षा लोनउच्च शिक्षा प्राप्त करने के लिए इत्यादि।

Home Loan ke Prakar

होम लोन कितने प्रकार के होते हैं?

होम लोन – घर बनाने के लिए लिया जाता है। परन्तु होम लोन घर बनाने से लेकर घर की सजावट और पुनः निर्माण के कार्य करने के लिए लोन लिया जाता है जो इस प्रकार है –

  • होम लोन – घर खरीदने के लिए
  • होम कंस्ट्रक्शन लोन – घर निर्माण के लिए लोन
  • होम इम्प्रूवमेंट लोन – घर को नया करने या बदलाव या सजावट के लिए

होम लोन के बारे में और जानकारी पढ़ें – Home Loan kya hota hai in Hindi

Business Loan ke Prakar

बिजनेस लोन कितने प्रकार का होता है?

भारत में व्यवसाय को लगाने से लेकर व्यवसाय को बड़ा करने तक जो भी लोन लेने होते है उन्हें बिज़नेस लोन कहते है जैसे बिज़नेस लोन, कैश क्रेडिट लोन, सीसी लिमिट, बिज़नेस मार्केटिंग लोन, और बिज़नेस एक्सपैंड लोन इत्यादि।

व्यवसाय करने के लिए अधिक जानकारी के लिए ये जरूर पढ़ें – Business loan kya hota hai

Property Loan ke Prakar

प्रॉपर्टी लोन उन लोगों को दिया जाता है जो प्रॉपर्टी खरीदने – बेचने का कार्य करते है या आम आदमी जो प्रॉपर्टी खरीदने के लिए उधार लेना चाहते है। प्रॉपर्टी लोन लेने या अधिक जानकारी के लिए ये जरूर पढ़ें – Mortgage loan kya hota hai

Bima Policy Loan

अगर आपने कोई बीमा पॉलिसी ले राखी है तो उस पर ऋण कम ब्याज दर पर ले सकते है। आपको तो बिमा के बारे में जानकारी होगा इसलिए अगर किसी कारणवंश बिमा नहीं लिया है तो आज ही आपके लिए उपयुक्त बिमा पालिसी लेकर कम ब्याज दर पर ऋण ले कर व्यवसाय शुरू कर सकते है।

Krishi Loan

किसानो को खेती करने के लिए कृषि लोन दिया जाता है। केंद्र और राज्य सरकार द्वारा किसानों को समय – समय पर कम ब्याज दरों पर ऋण उपलब्ध करवाती है। देश के हर व्यक्ति (अमीर हो या गरीब) को खाने के लिए भोजन की आवश्यकता होती है जो किसानों द्वारा उत्पादन किया जाता है। अनाज किसी भी अमीर की कारखानों (फैक्ट्री) या नेताओं के आलीशान बंगलों में पैदा नहीं होता है। इसलिए किसानो को खेती के लिए कम ब्याज दरों पर खेती करने के लिए ऋण देना जरुरी होता है और किसी कारणवंश जैसे बाढ़ या अकाल की वजह से खेती में घाटा या नुकसान होता है तो सरकार की तरफ से सहायता देनी चाहिए जो कम ब्याज दर पर ऋण उपलब्ध करवाने से खेती को बढ़ावा मिल सकता है जो देश में खाद्दान की कम होने से बचाया जा सकता है।

किसानो के लोन के बारे में अधिक जानकारी के लिए ये पढ़ें – Kisan Credit Card (KCC) Loan Yojana

Agriculture Loan

एग्रीकल्चर लोन उनको दिया जाता है जो कृषि के लिए भूमि खरीदना चाहते हो या कृषि भूमि पर ऋण लेकर कोई नया व्यवसाय करना चाहते हो। ये ऋण कृषि भूमि पर लिया जाता है। इस ऋण के लिए जमीन गिरवी राखी जाती है। भारत में सबसे ज्यादा ऋण जमीन गिरवी रखने से ही मिलता है। How Many Types of Agriculture Loans are There

Cash Credit Loan

बड़े – बड़े व्यवसायों को मिलने वाला ऋण को कैश क्रेडिट लोन कहते है। एक तरह का व्यवसाय ऋण ही हो परन्तु इसकी जरुरत अलग होती है जैसे छोटी – छोटी व्यवसाय में होने वाली जरूरतों को पूर्ति के लिए आदि। कैश क्रेडिट लोन के बारे में अधिक जानकारी के लिए ये जरूर पढ़ें – Cash Credit Loan Kya Hai

Personal Loan ke Prakar

अपनी स्वयं की छोटी – छोटी जरूरतों के लिए होने वाली धन की जरुरत की तुरंत पूर्ति करने के लिए लिया जाने वाला ऋण ही पर्सनल ऋण कहलाता है। पर्सनल लोन के बारे में अधिक जानकारी इस लेख से प्राप्त कर सकते है। Personal Loan Kya Hota Hai in Hindi

x