IntraDay Trading क्या है?

इंट्राडे ट्रेडिंग क्या है? intraday trading kaise kare in Hindi, इंट्राडे ट्रेडिंग में लाभ, और इंट्राडे ट्रेडिंग करने के तरीके, इंट्राडे ट्रेडिंग (intraday trading) एक दिन में किया जाने वाली ट्रेडिंग। बाजार में एक ही दिन में शेयर खरीदने और बेचने का क्या जाने वाला व्यापार को इंट्रा डे ट्रेडिंग कहते हैं। शेयर मार्किट के सुबह शुरू होने से लेकर शाम को बाजार बंद होने तक किया जाने वाला स्टॉक ट्रेडिंग जिसमे उसी दिन शेयर खरीद कर फिर बेच देना ही इंट्राडे ट्रेडिंग कहलाता है।

सबसे आसान भाषा में समझें तो एक दिन में किया जाने वाले शेयर व्यापार को इंट्राडे ट्रेडिंग कहते है। इंट्राडे ट्रेडिंग में बाजार के अनुसार उतार – चढाव देखने को मिलता है। सुबह के समय शेयर बाजार के खुलने पर शेयर के भाव फिर दिनभर शेयर बाजार में उतार – चढाव होता रहता है। इसलिए इंट्राडे ट्रेडिंग करने वाले व्यक्ति को शेयर खरीद कर उसी दिन बेचने होते है फिर दूसरे दिन शेयर को खरीदते है और शाम से पहले उन शेयर को बेच देते है।

इंट्राडे ट्रेडिंग क्या है? इंट्राडे ट्रेडिंग में दो प्रकार के व्यापार, इंट्राडे ट्रेडिंग में लाभ, और इंट्राडे ट्रेडिंग करने के तरीके
इंट्राडे ट्रेडिंग क्या है? इंट्राडे ट्रेडिंग में दो प्रकार के व्यापार, इंट्राडे ट्रेडिंग में लाभ, और इंट्राडे ट्रेडिंग करने के तरीके

दिन भर शेयर को खरीदना फिर बेच देने से जो लाभ या हानि होती है उसे इंट्राडे ट्रेडिंग बिज़नेस कहते है। इसमें लाभ भी हो सकता है और हानि भी। इसलिए इंट्राडे ट्रेडिंग करने के लिए व्यक्ति को शेयर बाजार के भाव पर नजर रखनी पड़ती है।

इंट्राडे ट्रेडिंग में दो प्रकार के व्यापार

  • घरेलू व्यापार – देश में खुदरा और थोक विक्रेताओं के द्वारा खरीदी गयी वस्तुओं और किये गए व्यापार को घरेलू व्यापार।
  • विदेशी व्यापार – देश का विदेश द्वारा खुदरा और थोक विक्रेताओं के द्वारा किये गए व्यापार को विदेशी व्यापार।

Intraday Trading Meaning in Hindi

इंट्राडे ट्रेडिंग को ‘डे ट्रेडिंग’ भी माना जाता है। इंट्राडे ट्रेडिंग एक ऐसा व्यापार है जिसमें निवेशक, स्टॉक या शेयर को खरीद कर उसी दिन बेचते हैं इंट्राडे ट्रेडिंग को डे ट्रेडिंग भी कहा जाता है क्योंकि इस को एक ही दिन में किया जाने वाला व्यापार है। यह व्यापार शेयर मार्केट में किया जाता है। जिसको सुबह शेयर खरीदते है तो उस शेयर को शाम से पहले पहले बेचना पड़ता है। उस व्यापार पर होने वाला लाभ इंट्राडे ट्रेडिंग लाभ कहलाता है। इंट्राडे ट्रेडिंग एक निवेश भी है और व्यापार भी।

इंट्राडे ट्रेडिंग में लाभ

  • इंट्राडे ट्रेडिंग में लाभ से कमाने व्यक्ति को बाजार पर नजर रखने पड़ते हैं।
  • जिस शेयर का भाव कम होता है उसको खरीदते हैं और जब भाव बढ़ता है तो उसको बेचते हैं।
  • इंट्राडे ट्रेडिंग तुरंत लाभ कमाने के लिए किया जाता है।
  • ज्यादा लाभ कमाने के लिए इंट्राडे ट्रेडिंग की जाती हैं क्योंकि यह 1 दिन में किया जाने वाला बिजनेस है।
  • इंट्राडे ट्रेडिंग शेयर मार्केट स्टॉक मार्केट खुदरा बाजार और थोक बाजार में भी किया जाता है।
  • इंट्राडे ट्रेडिंग व्यापार ऑनलाइन व्यापार है।
  • इंट्राडे ट्रेडिंग करने के लिए पैसा लगाया जाता है।
  • इंट्राडे ट्रेडिंग पैसे से पैसा कमाए जाने वाला ऑनलाइन गया पा रहे हैं।
  • इंट्राडे ट्रेडिंग में ज्यादा रिटर्न भी है और ज्यादा जोकिंग भी है।
  • इंट्राडे ट्रेडिंग में अधिक जोखिम के साथ-साथ रिटर्न भी ज्यादा मिलता है।

इंट्राडे ट्रेडिंग एक ही दिन में किया जाने व्यापार है, इसलिए निवेशक को ज्यादा दिन तक निवेश करके लाभ का इंतजार नहीं करना पड़ता।

इंट्राडे ट्रेडिंग करने के तरीके

  • इंट्राडे ट्रेडिंग करने के लिए केवल लिक्विड स्टॉक ही चुनना चाहिए।
  • इंट्राडे ट्रेडिंग के लिए दो या तीन स्टॉक ही चुनना चाहिए।
  • डे ट्रेडिंग करने के लिए हमेशा बाजार का ट्रेन देखना चाहिए बाजार में क्या ट्रेंड हो रहा है उस ट्रेंड व्यापार की की तरफ हमें भी जाना चाहिए।
  • इंट्राडे ट्रेडिंग करने से पहले एक्सपर्ट से शेयर के चुनाव करने संबंधित सुझाव लेने चाहिए।
  • एक्सपर्ट की राय से आपका बिजनेस और आसान हो जाता है।
  • इंट्राडे ट्रेडिंग में पैसा लगाने से पहले बाजार का अच्छे से रिसर्च कर लेना चाहिए।
  • न्यू इंट्राडे ट्रेडिंग करने वालों को एक्सपर्टस की राय और सलाह जरूर लेनी चाहिए तथा ज्यादा से ज्यादा ट्रेडिंग से संबंधित बुक्स पढ़कर भी ज्ञान प्राप्त किया जा सकता है।

दोस्तों इंट्राडे ट्रेडिंग करने से पहले आप अपने स्वयं जोखिम के आधार पर व्यापार करना चाहिए, क्योंकि किसी की सलाह या हम भी किसी को सलाह नहीं देते। सिर्फ हम आपको अच्छे सुझाव तो दे सकते हैं मगर जो बिजनेस करना होता है वह आपको अपने विवेक पर करना होता है। इसीलिए डे ट्रेडिंग में जो व्यापार में लाभ या हानि होती है, वह बाजार के आधार पर होती है। बाजार में कभी भी उतार – कभी चढ़ाव, बाजार में कभी भी एक समान भाव नहीं रहते, इसीलिए आपको बाजार पर नजर रखनी चाहिए। बाजार को समझना चाहिए कि किस प्रकार से कौन से स्टॉक में पैसा लगाने से आपको लाभ प्राप्त हो सकता है या नहीं।

निष्कर्ष

मेरे प्यारे दोस्तों! आज इस लेख में इंट्राडे ट्रेडिंग क्या है? इंट्राडे ट्रेडिंग में दो प्रकार के व्यापार, इंट्राडे ट्रेडिंग में लाभ, और इंट्राडे ट्रेडिंग करने के तरीके के बारे में लिखा गया है। आपने इंट्राडे ट्रेडिंग के बारे में पढ़ा। ट्रेडिंग कैसे की जाती है? इंट्राडे ट्रेडिंग क्या है? इंट्राडे ट्रेडिंग करने के तरीके और लाभ के बारे में इस लेख में दिया गया है। आपको पढ़कर अच्छा लगा होगा। अगर अच्छा लगा है तो आप अपने दोस्तों को भी इस लेख के बारे में बताएं और इस इंट्राडे ट्रेडिंग के लेख को पूरा पढ़ने के लिए दिल से धन्यवाद।

शेयर बाजार में निवेश से सम्बन्धित लेख पढ़कर शेयर के बारे में ज्ञान में वृद्धि कर सकते है।

भारत में शेयर बाजार क्या है

शेयर बाजार में निवेश कैसे करें?

गरीब से अमीर बनने के 8 तरीके

शेयर बाजार में आईपीओ क्या है?

शेयर मार्केट क्या है हिंदी में

सबसे ज्यादा रिटर्न देने वाला म्यूच्यूअल फण्ड 2021

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *