Business ke liye loan in Hindi

व्यवसाय को बढ़ाने की इच्छा सबकी होती है, परन्तु कई प्रकार की अड़चने आने से, व्यवसाय को बड़ा करने के लिए धन की जरुरत पड़ती है। जिसकी पूर्ति व्यवसाय ऋण (business ke liye loan) के द्वारा की जा सकती है।

Business Kya Hai

मुनाफा कमाने के लिए किसी वस्तु को खरीदकर फिर बेचने। किसी भी तरह का व्यापार ही व्यवसाय कहलाता है जो लाभ कमाने के लिए किया गया हो। व्यक्ति अपनी और अपने परिवार की आजीविका के लिए व्यापार कर करता है ताकि लाभ कमा कर जीवन व्यापन कर सके। और सभी तरह के सामाजिक दायित्वों को निभाने के लिए भी धन की जरुरत होती है। इसी जरुरत की पूर्ति के लिए किया गया कार्य व्यवसाय कहलाता है।

Business Loan Kya hai

व्यवसाय को शुरू करने या चलाने के लिए धन की जरुरत पड़ती है। फिर धन की पूर्ति किसी व्यक्ति, संस्था या बैंक से उधार ले कर करता है। व्यवसाय के लिए उधर लिया गया धन ही व्यवसाय ऋण कहलाता है।

अधिक जानकारी के लिए Loan Kya Hota Hai जरूर पढ़ें।

Business ke liye loan in Hindi

व्यवसाय ऋण लेने से पहले 11 Prakar ke Business Loan के बारे में जरूर पढ़ें क्यों कि कौनसा व्यवसाय ऋण आसानी से मिल सकता है ? कौनसा व्यवसाय ऋण पर कम ब्याज का भुगतान करना होता है ? कौनसा व्यवसाय ऋण से आपको फायदा होने वाला है ? कौनसे व्यवसाय ऋण लेने के लिए कम कागजात की जरुरत पड़ती है ? ये सब जानकारी आपको होनी चाहिए।

भारत में कई प्रकार के ऋण मिलते है। ऋण लेने से पहले आपको Types of Loan in Hindi जरूर पढ़ लेना चाहिए।

व्यवसाय ऋण लेने के बाद, सभी को ऋण को चुकाना पड़ता है। इसलिए सबसे पहले सभी व्यवसायों के मालिकों को EMI Kya Hai? इसके बारे में जरूर जानकारी होने चाहिए।

Business loan ke liye documents

सभी भारतीय व्यवसाय के मालिकों को ऋण लेने से पहले कुछ कागज बनवाने पड़ते है। कोन – कोन से कागज की जरुरत होगी? इसकी जानकारी अवश्य होनी चाहिए।

  1. हर व्यवसायी का परिचय पत्र।
  2. व्यवसायी का स्थाई पता।
  3. व्यवसाय का Registration.
  4. व्यवसाय के दफ्तर का पता।
  5. व्यवसाय का प्रकार।
  6. व्यवसाय का बैंक अकाउंट।
  7. व्यवसाय का पैन कार्ड।
  8. व्यवसाय का कर का भुगतान का रिकॉर्ड।
  9. व्यवसाय का सालाना Turn Over का रिकॉर्ड।

सभी राज्य में अलग – अलग नियम हो सकते है इसलिए व्यवसायी को सभी प्रकार की कागजात की खाना पूर्ति करनी होगी। जिस व्यवसायी के कागज पूर्ण होते है और व्यवसाय का प्रकार, व्यवसाय की प्रकृति और व्यवसाय का चलन अच्छा होगा। उस व्यवसायी को ऋण जल्दी और आसानी से मिल जाता है।

x